जन कल्याण हीं मेरे राजनैतिक जीवन का प्रथम और अंतिम लक्ष्य: डॉ यदुनाथ पाण्डेय

DR Yadunath Pandey
निजी संवाददाता, राँची:
DR Yadunath Pandey
झारखण्ड के हजारीबाग से पूर्व संसद सदस्य एवं प्रदेश भाजपा के पूर्व अध्यक्ष डॉ यदुनाथ पाण्डेय अपने आवास पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए यह बताया कि उनके राजनैतिक जीवन का प्रथम और आखिरी लक्ष्य जन-कल्याण ही है। आपको यह बताते चलें कि डॉ पाण्डेय की गिनती भारत के उन चंद राष्ट्रवादी नेताओं में होती है जिन्होंने अपनी पहचान अपने काम, ईमानदारी और विचारधारा पर चलकर बनायी है। डॉ पाण्डेय ने बताया कि देश का भविष्य प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के मजबूत हाथों में सुरक्षित है तथा भाजपा संगठन श्री अमित भाई के नेतृत्व में दिन प्रतिदिन और मजबूत होते जा रहा है। प्रदेश की रघुवर सरकार की जम कर तारीफ़ करते हुए उन्होंने कहा कि कहीं कोई गड़बड़ी नहीं है तथा प्रदेश में विकास हो रहा है। डॉ पाण्डेय ने विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि विपक्ष की नियत में हीं खोट है, पहले उनलोगों ने विकास नहीं किया और आज जब विकास हो रहा है, तब ये लोग अड़चन उत्पन्न कर रहे हैं।
सटीक विश्लेषण :
डॉ साहब यदि सब कुछ ठीक हीं है फिर आप लोगों को यह बताने की आवश्यक्ता क्यों पड़ती है? जनता सब समझती है। हम लोग झारखण्ड की सरकार का ध्यान गरीबों और प्राकृतिक संसाधनों के दोहन की तरफ आकृष्ट कराना चाहते हैं, सरकारें आईं और गईं लेकिन उनकी स्थिति जस की तस है।

Comments

comments

1 Comment

Comments are closed.